Home रायगढ़ न्यूज देवकी रामधारी फाउंडेशन ने राष्ट्रपति को अंगदान दिवस पर रायगढ़ आने का दिया न्यौता

देवकी रामधारी फाउंडेशन ने राष्ट्रपति को अंगदान दिवस पर रायगढ़ आने का दिया न्यौता

by SUNIL NAMDEO EDITOR

रायगढ़ (सृजन न्यूज)। विश्व अंगदान दिवस पर रायगढ़ में देवकी रामधारी फाउंडेशन द्वारा आयोजित कार्यक्रम में राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू को आमंत्रित किया गया है। अंगदान दिवस पर समाजसेवी दीपक अग्रवाल और उनकी टीम उन लोगों को भी सम्मानित करेगी जो नेत्रदान एवं देहदान जैसे महादान की घोषणा करते हैं।

                शहर के होटल एकॉर्ड में आयोजित पत्रकारवार्ता में देवकी रामधारी फाउंडेशन के चेयरमैन दीपक अग्रवाल (डोरा) ने बताया कि भारत को नेत्रहीन मुक्त बनाने की मुहिम ही उनकी संस्था का उद्देश्य है। नेत्रदान महादान के सूत्र को आत्मसात करने वाली देवकी रामधारी फाउंडेशन इसके लिए बेहद सक्रिय भी है। उन्होंने कहा कि भिलाई की तर्ज पर रायगढ़ में भी ग्रीन कॉरिडोर बनाने की योजना है। इसमें ट्रैफिक व्यवस्था को खास देखना पड़ता है। मीडिया के 2 साथी भी देहदान की घोषणा कर चुके है, जो सराहनीय है।

                    दीपक अग्रवाल ने मीडिया के माध्यम से मांग की कि जिस तरह यूरोप में चिकित्सा जगत के डॉक्टर्स भी बॉडी को कंधे पर उठाकर सम्मान करते हैं, उसी तरह भारत में भी हो। उन्होंने कहा कि मरणोपरांत देहदान वाली बॉडी से अस्थि रोग विशेषज्ञों को कंकाल से चिकित्सा संबंधित काफी कुछ जानकारी मिलती है। उन्होंने रायगढ़ के मेडिकल कॉलेज हॉस्पिटल में आई ट्रांसप्लांट की सुविधा की भी मांग है ताकि जरूरत पड़ने पर लोगों को दीगर जगह जाना न पड़े। दरअसल, रायगढ़ में 85 लोग नेत्रदान तो 19 शख्स देहदान कर चुके हैं। ऐसे में जब बड़ी संख्या में देह और नेत्रदान की पहल हो रही तो मुख्यमंत्री को इस दिशा में सकारात्मक पहल करें।

                  दीपक ने यह भी बताया कि आगामी 13 अगस्त को विश्व अंगदान दिवस पर उन्होंने राष्ट्रपति भवन जाकर महामहिम द्रौपदी मुर्मू को रायगढ़ आने का मनुहार भरा आमंत्रण दिया है। दीपक ने आगे बताया कि ओडिशा में अंगदान करने वाले की अंत्येष्टि राजकीय सम्मान के साथ होती है। साथ ही देहदानी परिवार को भी सम्मानित किया जाता है, छत्तीसगढ़ में ऐसी परंपरा की शुरुआत होनी चाहिए, ताकि लोग नेत्र और देहदान जैसे मुहिम को गति दे सकें। प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान समाजसेवी राजेश अग्रवाल भी प्रमुख रूप से उपस्थित थे।

You may also like