Home विविध आपसी कलह में अधेड़ को उतारा मौत के घाट, मुल्जिम गिरफ्तार

आपसी कलह में अधेड़ को उतारा मौत के घाट, मुल्जिम गिरफ्तार

by SUNIL NAMDEO EDITOR

          रायगढ़। 19 मार्च की दोपहर थाना प्रभारी लैलूंगा निरीक्षक राजेश जांगड़े को ग्राम कमरगा में एक व्यक्ति की संदेहास्पद मृत्यु की सूचना मिली । तत्काल थाना प्रभारी वरिष्ठ अधिकारियों को अवगत कराकर अपने स्टाफ के साथ मौके पर पहुंचे । जहां गांव के रातूराम चौहान के मकान बरामदा में अमर साय चौहान पिता सगुन चौहान (उम्र 48 वर्ष) का शव कीचड़ में लथपथ पड़ा मिला । शव के सिर, आंख के ऊपर और कई जगह चोट के निशान थे, प्रथम दृष्टिया मामला हत्यात्मक प्रतीत होने पर थाना प्रभारी द्वारा मृतक के वारिसानों एवं रातूराम चौहान के परिवारजनों को तलब कर पूछताछ किया गया । मृतक अमर साय का लड़का पूर्णचंद चौहान (उम्र 21 साल) मौके पर रिपोर्ट दर्ज कराई कि उसके पिता अमर साय 18 मार्च के दोपहर साप्ताहिक बाजार कमरगा गए थे और रात करीब 8:00 बजे घर से खाना पकड़ कर गोड़ा (खेत) सोने गया था जिनका दूसरे दिन 19 मार्च के सुबह गांव के रातूराम चौहान के घर बरमदा में शव पड़ा मिला । 


थाना प्रभारी द्वारा अज्ञात आरोपी के विरुद्ध हत्या का अपराध पंजीबद्ध कर जांच आगे बढाये । गांववालों से पूछताछ में 18 मार्च को अमरसाय को छोटू सारथी और लच्छीन्दर चौहान (रातूराम चौहान का लड़का) के साथ घूमते देखना बताये । पुलिस टीम द्वारा तत्काल दोनों को हिरासत में लेकर हिकमत अमली से पूछताछ करने पर लच्छीन्दर चौहान 18 मार्च की रात्रि अमर साय के साथ मारपीट करना बताया । आरोपी लच्छीन्दर चौहान पिता रातूराम चौहान उम्र 21 साल निवासी कमरगा ने बताया कि 18 मार्च की शाम अमर साय चौहान, छोटू सारथी के साथ तीनों गांव में खाना पीना किये । उसके बाद छोटू सारथी अमर साय को इसके घर छोड़कर चला गया । अमर साय नशे में लच्छीन्दर के साथ गाली गलौज करने लगा जिसमें दोनों के बीच विवाद हुआ और लच्छीन्दर ने द्वारा अमर साय को हाथ-मुक्के से मारपीट कर कंक्रीट के फर्श (बरामदा) में पटकने लगा जिससे जमीन में पड़े छोटे कंक्रीट से अमर साय के सिर, आंख के ऊपर गहरा चोट आई और अमर साय चौहान की मौत हो गई । थाना प्रभारी द्वारा घटनास्थल और आरोपी लच्छीन्दर चौहान के मेमोरेंडम पर महत्वपूर्ण साक्ष्य की जपती कर आरोपी को हत्या के अपराध में गिरफ्तार कर न्यायिक रिमांड पर भेजा गया है । पुलिस अधीक्षक दिव्यांग कुमार पटेल के दिशा निर्देशन तथा एडिशनल एसपी आकाश मरकाम, एसडीओपी धरमजयगढ़ सिद्धांत तिवारी के मार्गदर्शन हत्या के अपराध में आरोपी की गिरफ्तारी एवं साक्ष्य संकलन में थाना प्रभारी लैलूंगा निरीक्षक राजेश जांगडे, उप निरीक्षक चन्द्र कुमार सिंगार एवं हमराह स्टाफ की अहम भूमिका रही है ।

You may also like